तिरुपति के पर्यटन स्थल | Tirupati Tourist Places in Hindi

5/5 - (2 votes)

नमस्कार साथियों आज के इस निबंध में हम जानेगे तिरुपति के टॉप 5 पर्यटक अस्थ्लो के बारे में जो की आंध्र प्रदेश की सबसे धार्मिक अस्थ्लो में से एक है, ये सहर अपने खूबसूरती और प्रसिध मंदिरों के लिए प्रसिध हैं. अगर आप भी तिरुपति जा रहे हैं तोह इन 5 अस्थलो में घुमने जरुर जाएँ. 

तिरुपति sightseen देखने के लिए आपको सुबह से शाम तक पुरे 1 दिन का समय लग सकता है, इसीलिए सुबह 8 से 9 बजे तक sightseen देखने चले जाए.

तिरुपति में टॉप 5 पर्यटन अस्थ्लो | Top 5 Tirupati Tourist Places

1. तिरुपति के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल श्री पद्मावती टेम्पल – Tirupati Ke Prasidh Dharmik Sthal Sri Padamavati Temple In Hindi

Sri Padamavati Temple
source-commons.wikimedia.org

श्री पद्मावती मंदिर तिरुचनुर को जाए जिसे अमवारी मंदिर के नाम से भी जाना जाता है, जो तिरुपति bus stop से 5km के दुरी पे अस्थित है. कहते है की भगवान वेंकेतेस्वर की दर्शन तब तक पुरे नही होते जब तक आप श्री पद्मावती देवी के दर्शन नही करते तो इस मंदिर का पुरानी महत्ब है इसीलिए आप तिरुपति  जाए तो इस मंदिर के दर्शन जरुर करें. ये मंदिर all day सुबह 5 बजे से 9 बजे तक दर्शन हेतु खुला रहता है.

2. तिरुपति के प्रमुख मंदिर श्री कल्याणा वेंकतेस्वारा स्वामी टेम्पल – Tirupati Ke Pramukh Mandir Sri Kalyana Venkateswara Swami Temple In Hindi

Sri Kalyana Venkateswara Swami Temple
source-commons.wikimedia.org

यह मंदिर श्री वेंकतेस्वारा भगवान को समर्पित है. कहते है की इस मंदिर को newly married couple और व्यवाहिक सन्ति के लिए जरुर जाये. जब भगवान वेंकतेस्वारा और देवी पद्मावती का विवाह हुआ था तब देवी पद्मावती तिरुमाला ना लौटने पर भगवान स्वयं उन्हें लेने मंगापुरम आये थे, तोह भगवान ने इस जगह पे बास किये थे और जाते समय यह बरदान दिया था की जो भी भक्त तिरुमाला न आ सके और व्यवाहिक कस्ट से वाधित हो उनके इस दर्शन से सभी दुःख दूर हो जायेगे.

इस मंदिर को भक्तो को हमेसा भीड़ रहती है. इस मंदिर के मूर्ति तिरुमाला के भगवान वेंकतेस्वारा की मूर्ति से 2 फुट ज्याद बड़ा है. मंदिर भक्तो के दर्शन हेतु all day सुबह 5:30 बजे से रात 7:30 बजे तक खुला रहता है.  

3. श्री कपिलेस्वारा स्वामी वारी टेम्पल – Sri Kapileswara Swamy Vari Temple

यह मंदिर तिरुपति के बस स्टैंड से 5 km दुर में अस्थित है. यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है. इस मंदिर का नाम महान ऋषि कपिला के नाम से दिया गया है. भगवान शिव के इस मंदिर को चक्रथाल्वर तीर्थम और अलवर तीर्थम के नाम से भी जाना जाता है.

 इसके अलावा यह मंदिर श्री तिरुपति देवास्थानाम्स से जुड़ा है. कहते है की भगवान बाला जी  और माता पद्मावती एक बार घूमते घूमते इस अस्थान पर आये थे तोह इस अस्थान पर तोड़ी देर रुकने के बाद महान ऋषि कपिला भगवान शिव के महान भक्तो में से एक थे, इसीलिए यहाँ भगवान शिव का मंदिर बना है. यहाँ का कपिला वॉटरफॉल भी बहुत ही प्रसिध है.बारिश के दिनों में यहाँ पर बहुत भीड़ होती है.

4. तिरुपति में घुमने की जगह श्री वेंकतेस्वारा जूलॉजिकल पार्क – Tirupati Me Ghumne Ki Jagah Sri Venkateswara Zoological Park In Hindi

Sri Venkateswara Zoological Park
source-commons.wikimedia.org

यह पार्क तिरुपति बस स्टॉप से 7 km दुरी पे है, इस पार्क में प्राणी, वन्य जीब, फारेस्ट के सैर की मज़ा उठा सकते है. यह पार्क सुबह 8:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक खुली रहती है. श्री वेंकतेस्वारा जूलिगिकल पार्क को घुमने का सबसे अच्छा समय नवम्बर से मार्च के बीच का होता है, तोआप इस पार्क को जरुर घूमें. 

5. श्री कलाहस्तीस्वारा टेम्पल – Sri Kalahasteeswara Temple

Sri Kalahasteeswara Temple
source-commons.wikimedia.org

यह टेम्पल अपने आप में ही अद्भुत है. इस मंदिर को इतिहासिक और धार्मिक महत्ब है. मंदिर की अस्थापना 11 सदी में प्रांतः काल के रजा राजेंद्र चोला द्वारा की गयी है. श्री कलाहस्तीस्वारा मंदिर तिरुपति बस स्टॉप से 40 km दुरी पर अस्थित है. कहते है की पुरे भारत में इसी स्थान पर श्री कलाहस्तीस्वारा का पूजा, श्री नारायण नाग्वाली पूजा, राहू केतु पूजा, अपने माता पिता जो स्वर्ग वासी हो चुके हैं उनके सन्ति के लिए पूजा यहाँ इसी जगह पर करना  बहुत ही फलदाई होता है.

यह मंदिर सुबह 6:00 बजे से रात 9:00 बजे तक भक्तो के दर्शन हेतु खुला रहता है, यहाँ रुकने के लिए श्री कलाहस्तीस्वारा के रूम्स अवेलेबल होते है. इस मंदिर में जाने के लिए 4 द्वार बनाये गये है, मंदिर के चारो ओर से एक सामान दिखाई देने वाला मंदिर बहुत ही भव्य और सुंदर है. मंदिर के सिल्प कला बहुत ही पुराणी और सुन्दर है. अंदर श्री कलाहस्तीस्वारा के मंदिर के अलावा अन्य 2 देवताओ का छोटे छोटे मंदिर बनाया है. उन सभी मंदिरों के दर्शन कर के आप गेट संख्या 4 से बहार आजाते है. यहाँ मंदिर प्रशासन की ओर से डोनेशन और प्रसाद के काउंटर लगाये गए हैं.

तिरुपति घुमने का सबसे अच्छा समय- Best time to visit Tirupati

तिरुपति में साल भार भीड़ रहती है, हालांकि तिरुपति की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय सितंबर से फरबरी तक का होता है|

तिरुपति का प्रसिध भोजन- Famous Food of Tirupati

तिरुपति के बारे में महान बात यह है की यह परंपरा और संस्कृति से भरा है, तिरुपति का स्थानीय भोजन तमिल और तेलगु व्यंजनों का एक संयोजन है, क्युकि तिरुपति 1953 से पहले तमिलनाडु का हिस्सा था और बाद में आंध्र प्रदेश का हिस्सा बन गया| भले ही दोनों स्थानों में समृद्ध शाकाहारी होने के साथ साथ मांसाहारी व्यंजन भी हो, लेकिन तिरुपति का भोजन अधिकांशत: शाकाहारी है जैसे पुलिहोरा, पायसम, मुरुक्कू, पोंगल, लड्डू, और बिसिबेले भात है| 

तिरुपति कैसे पहुचें- How to reach Tirupati

सड़क द्वारा (By Road)- यदि आप सड़क मार्ग द्वारा तिरुपति का यात्रा करते हैं तो हम बता दें तिरुपति सड़क मार्ग के माध्यम से सभी प्रमुख शहरो से जुडी हुई है| तिरुपति में राज्य का सबसे बड़ा बस टर्मिनल है| दक्षिण भारत के सभी प्रमुख शहरो से यहाँ के लिए सीधी बस सेवा उपलब्ध है|

ट्रेन द्वारा (By Train)- यदि आप ट्रेन से यात्रा करते है तो हम बता दे की तिरुपति एक प्रमुख रेलवे स्टेशन है जहा से पुरे भारत के पुरे प्रमुख राज्य के लिए ट्रेन उपलब्ध है| 

हवाई जहाज द्वारा (By Flight)- यदि आप हवाई जहाज से यात्रा करते है तो हम बता दे की तिरुपति हवाई अड्डा को अन्तराष्ट्रीय हवाई अड्डा घोषित कर दिया गया है लेकिन अभी तक कोई अन्तराष्ट्रीय उड़ाने नही ली है| वर्तमान में यह भारत के प्रमुख शहरो से जुडी हुई है दिल्ली, कोल्कता, हैदराबाद, विशाखापत्तनम, कोइम्बतोर, मुंबई के लिए उपलब्ध है और यह हवाई अड्डा शहर से 15 दूर पर स्थति है|

तिरुपति का नक्शा -Tirupati Map

Abhishek
Abhishek

अभिषेक कुमार HindiYatra के संस्थापक और लेखक है. उन्हें नई जगहों का पता लगाने और उनके बारे में लिखने का शौख है.
इनका गृह नगर बिहारशरीफ है. वह एक अशंकालिक ब्लॉगर है और डिजिटल मर्केटर के रूप में काम करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *