आंध्र प्रदेश के पर्यटन स्थल | Tourist Place in Andhra Pradesh in Hindi

5/5 - (2 votes)

आंध्र प्रदेश की अस्थापना 1 नवम्बर 1956 में की गयी थी और इसकी राजधानी अमरावती है, इसकी अधिकारिक भासा है तेलगु और ये कृष्णा और गोदावरी नदियों के किनारे में अस्थित है.

भारत का ये सबसे खुबसूरत और धार्मिक मंदिरों, इतिहासिक ईमारतों, प्रकर्ती अस्थानो और सम्दुरी विचो के लिए बहुत परसिध है.

आंध्र प्रदेश से एक नए राज्य तेलंगाना का उदय फरबरी 2014 में हुआ था. यदि आप आंध्र प्रदेश से जुडी रोचक जानकारी पाना चाहते है तो हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़िए.

13. वेस्ट गोदावरी – West Godavari

West Godavari
source-commons.wikimedia.org

गोदावरी के पुरबी घाटो पे बने एलुरु को पुरबी गोदावरी भी कहा जाता है. एलुरु अपने गुन्तुपल्ली गुफाओ के लिए पुरे विस्व में परसिद्ध है. दोस्तों एलुरु में गोदावरी के घाट काफी मनमोहक नज़र आते है और इन्ही घाटो के कारन एलुरु पुरे आंध्र प्रदेश का 50% चावल का उत्पादन करता है.

12. श्रीकाकुलम – Srikakulam

Srikakulam
source-commons.wikimedia.org

कृष्णा नदी के तट पे बसा है. श्रीकाकुलम विसखापतनम से काफी नजदीक अस्थित है. दोस्तों कलिंगा सम्राज्य के अन्तरगत होने के कारन श्रीकाकुलम में कई सरे मंदिरों का निर्माण किया गया था. ये मंदिर अपनी बनावट के लिए पुरे भारत में मसहूर है. आजादी के लड़ाई के दौरान श्रीकाकुलम में ही खादी का निर्माण हुआ था जिससे श्रीकाकुलम में महात्मा गाँधी का अपने ध्यान अपनी ओर खीचा था, यहाँ मौजूद विचो, मंदिरों और किलो में आपको जाकर कालीन सामराज्य की वास्तुकला को जरुर देखना चाहिए.

11. गुंटूर – Guntur

Guntur
source-commons.wikimedia.org

बंगाल के खारी से 64km के दुरी पे बसा गुंटूर, आंध्र प्रदेश की सबसे बड़े सहर में से एक है. गुंटूर का मेजर अट्रैक्शन अमरावती है. अमरावती में बने महा चैत्य स्तूप में लाखो की संखिया में लोग दर्शन करने आते है. गुंटूर में बना नागार्जुन डैम भी पर्यटक को अपनी ओर आकर्षक करता है.

गुंटूर आंध्र प्रदेश के धार्मिक सहरो में से एक है, इस कारन यहाँ पे शानदार वस्तुकला से बने कई मंदिर मौजूद है. अम्रेश्वारे मंदिर उन्ही मंदिरों में पर्मुख है. दोस्तों आप कभी गुंटूर जाए तो मंगलगिरी जाना ना भूले और हाँ यहाँ मौजूद बुद्ध स्तूप जितनी सन्ति आपको कही नहीं मिल सकती.

Anantapur
source-commons.wikimedia.org

10. अनंतपुर – Anantapur

अनंतपुर आंध्र प्रदेश की सबसे बड़े सहरो में से एक है. दोस्तों आपको ये जान कर हैरानी होगी की इस सेहर से 1,2,3 नही बल्कि 6 नदिया गुजरती है. ये पहले विजयनगर सम्राज्य का हिस्सा हुआ करता था इस कारन यहाँ कई सारे इतिहासिक अस्थल और मंदिर मौजूद है. यहाँ विस्व का प्रसिध लेपक्षी मंदिर मौजूद है. मंदिर के बारे में मान्यता है की भगवान राम की पत्नी माता सीता को रावन जब अपहरण करके ले जा रहे थे तब जटाओ ने उसने इसी जगह पर लड़ाई की थी.

यह जगह UNISCO की World Heritage साइट्स में से एक है. अनंतपुर में घुमने लायक और जगहों में रैदुर्गम किला, अलुरु किला और रतनादुर्ग का किला सामिल है.

9. राजमुंदरी -Rajamundri

Rajamundri
source-commons.wikimedia.org

विसखापतनम के ही पास ही बसा सेहर है और यह कहना गलत नही होगा की विसखापतनम ने राजमुंदरी की ब्यूटी को छाया से अधिक कर दिया है. दोस्तों राजमुंदरी गोदावरी नदी के तट पर बसा हुआ है, यहाँ का सफ़र आप गोदावरी नदी पैर बोटिंग के साथ कर सकते है.

उसके बाद यहाँ पर डच फोर्ट और पापी हिल्स है जो सारे पर्यटक को अपनी ओर आकर्षित करते है ऐसा मन जाता है की राजमुंदरी में ही तेलगु भासा का जन्म हुआ था. राजमुंदरी एक पौराणिक सेहर है इसी कारन यहा कई पौराणिक मंदिरों के खासियत है की ये मंदिर दरबड़  स्टाइल से बनाये गए है, देश विदेश से इन्हें देखने आये हुए लोग यहाँ की वस्तुकला को देख कर दांतों टेल उंगलिया दबा लेते है.

8. ओंगोल -Ongol

Ongol
source-commons.wikimedia.org

ओंगोल 17 सदी में बने हिन्दू मंदिरों के लिए काफी ज्यादा प्रसिध  है. ये आंध्र प्रदेश की पुराने सहरो में से एक है यहाँ मौजूद विचो पे लोग सुकून से अपना समय बिताते है. दोस्तों यहाँ जाने पर आप यहाँ के वातावरण में पूरी तरह घुल मिल जायेगे. यहाँ लगभग हर गली में एक किले का खंडर मौजूद है जो ओंगोल के समृधि ईतिहास को दर्शाता है. दोस्तों किया आप जानते है, ओंगोल घुमने जाने वाले पर्यटक कोथापतनम वीच, वोदारेवु वीच और काशी विस्वेस्वारा मंदिर जरुर आते है.

7. कडपा -Kadpa

Kadpa
source-commons.m.wikimedia.org

कडपा का मतलब तेलगु में होता है दरवाजा. यहाँ के किले पुरे दक्षिण भारत में प्रसिध है. गंदिकोता का किला और सिद्दवातन का किला यहाँ के पर्मुख है. दोस्तों आपको जान कर हैरानी होगी की कडपा विस्व के उन 20 सहरो में सामिल है जहा पे नुक्लेअर फ्यूल रिज़र्व है. कडपा जाने पर आप कडपा की गुफ्फाओ में घुमने जा सकते है वह आपको प्रकृति और इतिहास का सम्पूर्ण समावेश मिलेगा. कडपा में घुमने लायक अन्य जगहों में भगवान महावीर, गवर्नमेंट मुसियम और श्री वेंकटेश्वर वन्य जीबन संग्रक्षण वन सामिल है.

6. कुर्नूल -Kurnool

Kurnool
source-commons.wikimedia.org

कुर्नूल आंध्र प्रदेश के सबसे पुराने सहरो में से एक है ऐसा मन जाता है की यहाँ पसन् युग से लोगो का रहना जारी है. यहाँ मौजूद गुफाये तोह यही कहती है. ये सहर पूरी तरह से पर्बतो से घिरा हुआ है, यहाँ मौजूद Rollapadu Bird sanctuary यहाँ का सबसे प्रसिध पर्यटक अस्थल है.

ये पहले विजयनगर सम्राज्य का हिस्सा हुआ करता था और तब यहाँ पे कुर्नूल के किले का निर्माण किया गया था. यह किला काफी ज्यदा विशाल और अद्भुत है. कुर्नूल में घुमने लायक जगहे कुर्नूल म्यूजियम, अदानी फोर्ट और नल्लामला के जंगले है.

क्या आप जानते है भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग में से एक मल्लिकर्जुना ज्योतिर्लिंग कुर्नूल में ही अस्थित है. अगर आप प्रकृति प्रेमी है या इतिहास में दिलचस्पी रखते है तोह कुर्नूल आपको जरुर जाना चाहिए.

5. चित्तूर -Chittur

Chittur
source-commons.wikimedia.org

चित्तूर एक पलर नदी के तट पर बसा एक सहर है, जो की जाना जाता है अपने पहरों के लिए. दोस्तों चित्तूर के पास प्रकृति का बरदान है. इस सहर में नदिया भी है, झीले भी है, परबत भी है, और झरने भी है. चित्तूर एक पौराणिक सहर है इसीलिए यहाँ के पहाडियों में कई सरे अद्भुत किले देखने को मिलते है.

किले के साथ साथ यहाँ की पहाडियों में कई प्राचीन मंदिर भी मौजूद है. चित्तूर एक सांत सहर है और यहाँ घूमना किसी एडवेंचर टूर से कम नही है. यहाँ के जंगलो को पूरी तरह से छानबीन करने में एक हफ्ते से ज्यादा समय लग जाता है और यहाँ आने वाले पर्यटक यहाँ की सुन्दरता को जिंदगी भार नही भूल पाते है.

4. नेल्लोर -Nellore

Nellore
source-commons.wikimedia.org

नेल्लोर आंध्र प्रदेश के दक्षिण में मौजूद सहर है. इसे आंध्र प्रदेश की हाई टेक सिटी भी कहा जा सकता है क्युकी यहाँ पर ISRO का मुख्य सेण्टर श्री हरिकोटा में मौजूद है. दोस्तों टेक्नोलॉजी के साथ साथ नेल्लोर का कल्चर काफी ज्यादा रिच है.

नेल्लोर पर मौर्या, चोल, पल्लव और विजयनगर जैसे सम्राज्य को राज रहे जाने के कारन यहाँ कई छोटे छोटे किले मौजूद है जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है. दोस्तों यहाँ का उदयगिरी का किला और ववेंकट गिरी का किला पुरे दक्षिण भारत में बहुत मशहूर है.

नेल्लोर में मौजूद श्री रंगनाथास्वमी मंदिर में पूरी दुनिया से लोग दर्शन करने के लिए आते है.

3. विजयवाडा -Vijayawada

Vijayawada
source-commons.wikimedia.org

विजयवाडा आंध्र प्रदेश का तीसरा सबसे बड़ा सहर है और सबसे ज्यदा अमेजिंग भी. विजयवाडा को जाना जाता है उसके जंगलो के लिए. विजयवाडा में कृष्णा नदी बहती है इसके किनारों पर कई सारे इतिहासिक मंदिर मौजूद है, मंदिरों के साथ साथ विजयवाडा में कई सरे बुद्धा मठ भी है.

विजयवाडा में भवानी आइलैंड, प्रकाशम् barrage, विक्टोरिया म्यूजियम और कोंडापल्ली का किला जरुर देखना चाहिए. यहाँ के कोलुरुल लेक पर अपना खालो समय बिताने आते है. दोस्तों अगर आप विजयवाडा जाते है तोह गाँधी हिल जाना मत भूलियेगा.

2. आंध्र प्रदेश के तीर्थ स्थल तिरुपति – Andhra Pradesh Ke Tirth Sthal Tirupati In Hindi

Purv Tirupati Sri Balaji Temple

तिरुपति सहर आंध्र प्रदेश के दक्षिण हिस्से में पुरबी घाटो पे बना हुआ है. यहाँ मौजूद तिरुपति बाला जी मंदिर दुनिया में मशहूर है. दोस्तों किया आप जानते है तिरुपति बाला जी मंदिर दुनिया के सबसे आमिर मंदिरों में से एक है, यहाँ साल भर में लगभग करोड़ रुपय दान किया जाता है, यहाँ मिलने वाला लडू को पूरी दुनिया बड़े चाव से खाती है. 

आंध्र प्रदेश की इस धार्मिक सहर में और भी कई मंदिर, श्री गोविन्दराजस्वामी मंदिर इनमे से पर्मुख है. दोस्तों अगर आप यहाँ जाए तो तल्कोना झरने पे जाना ना भूले.

1. आंध्र प्रदेश के खुबसूरत जगह विशाखापत्तनम – Andhra Pradesh Ke Khubsurat Jagah Visakhapatnam In Hindi

Visakhapatnam
source-commons.wikimedia.org

समुन्द्र के तट पर बसा विशाखापत्तनम आंध्र प्रदेश का सबसे बड़ा सहर है,  ऐसा हो सकता है की आने वाले समय में इसे आंध्र प्रदेश की राजधानी घोषित कर दिया जाए. विशाखापत्तनम में कई सारे ऐसी जगह है जहा पर जाने के बाद आपका वहा से आने का बिलकुल मन नही करेगा.

विशाखापत्तनम के परमुख अस्थानो में सिम्हाचालम मंदिर मुख्य है, ऐसा माना जाता है की इस मंदिर में भगवान नर्शिम्हा का अवतार हुआ था. विशाखापत्तनम में इंदिरा गाँधी जू , अरकू वैली, कटिकी झरना देखने लायक है ये R.K Beach और रीशिकोंदा वीच आपको बहुत पसंद आयेगा. विशाखापत्तनम आंध्र प्रदेश का गोवा भी कहा जाता है, यहाँ के वीच काफी हद तक पर्यटकों को गोवा की याद दिलाते है.

आंध्र प्रदेश घुमने का सबसे अच्छा समय- Best time to visit Andhra Pradesh

आंध्र प्रदेश घुमने जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के बीच में मन जाता है.

आंध्र प्रदेश का स्थानीय भोजन- Local food of Andhra Pradesh

आंध्र प्रदेश में पुरे देश भार में मसालेदार भोजन के लिए जाना जाता है. आंध्र प्रदेश की प्रसिध भोजन में शाकाहारी और मंशाहरी दोनों ही शामिल है. यहाँ का मुख्य भोजन चावल है, जिसे हमेशा सांबर के साथ परोसा जाता है.

आंध्र प्रदेश में समुद्री भोजन केवल तटीय क्षेत्रों में सबसे अधिक पसंद किया जाता है. झींगे और मछली यहाँ खाए जाने वाले प्रमुख प्रकार के समुद्री भोजन हैं. इन खाद्य पदार्थों में काली मिर्च का स्वाद भी होता है और इन्हें आमतौर पर चावल के साथ खाया जाता है.

ये है विभिन्न प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन, आपको कम से कम एक बार भोजन जरूर खाना चाहिए:

  • मेडू वड़ा ( Medu Vada)
  • आंध्र चिकन बिरयानी (Andhra Chicken Biryani)
  • दही चावल( curd rice)
  • पुलिहोरा (Pulihora)
  • पुनुगुलु ( Punugulu)
  • उपपिण्डी( Uppindi) अदि शामिल हैं.

आंध्र प्रदेश कैसे पहुचें- How to reach Andhra Pradesh

सड़क द्वारा (By Road)- यदि आपने आंध्र प्रदेश की यात्रा सड़क मार्ग द्वारा करते हैं तो हम बता दें की आंध्र प्रदेश अपने आसपास की राज्यों से अच्छी तरह से जुडी हुई है.

ट्रेन द्वारा (By Train)-  यदि आप ट्रेन द्वारा आंध्र प्रदेश की यात्रा करते है तो हम बता दें की आंध्र प्रदेश में कई रेलवे स्टेशन मौजूद है जो की आंध्र प्रदेश की प्रमुख शहरो में स्थित है और भारत के अन्य राज्यों से अच्छी तरह जुडी हुई है.

हवाई जहाज द्वारा (By Flight)- यदि आप हवाई जहाज से आंध्र प्रदेश की यात्रा करते हैं तो हम बता दें आंध्र प्रदेश में कई हवाई अड्डा है जिनमे से प्रमुख हैदराबाद हवाई अड्डा, तिरुपति हवाई अड्डा, विशाखापत्तनम हवाई अड्डा है जो आप अपने डेस्टिनेशन के अनुसार चुन सकते हैं.

आंध्र प्रदेश का नक्शा - Andhra Pradesh Map

Abhishek
Abhishek

अभिषेक कुमार HindiYatra के संस्थापक और लेखक है. उन्हें नई जगहों का पता लगाने और उनके बारे में लिखने का शौख है.
इनका गृह नगर बिहारशरीफ है. वह एक अशंकालिक ब्लॉगर है और डिजिटल मर्केटर के रूप में काम करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *