नालंदा के पर्यटन स्थल | Tourist Places in Nalanda in Hindi

3.3/5 - (6 votes)

Tourist Places In Nalanda In Hindi– नालंदा बिहार राज्य का एक जिला है. नालंदा एक प्राचीन महाविहार का एक बौद्ध मठ था, जो भारत में मगध के प्राचीन राज्य में शिक्षा के एक प्रसिद्ध केंद्र के रूप में कार्य करता था. यह स्थल बिहारशरीफ शहर के पास पटना से लगभग 95 km दक्षिण पूर्व में स्थित है. आज यह UNESCO की विश्व धरोहर स्थल है.

यहाँ पुरातात्विक विभाग ने खुदाई के दौरान मिली हुई बौद्ध एवं हिन्दू कांसे की वस्तुए और बिना क्षतिग्रस्त हुई भगवान बुद्ध की मुर्तिया के दुर्लभ संग्रह को सावधानीपूर्वक बरक़रार रखा गया है. यह नालंद के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है. तो चलिए हम आज नालंदा के मुख्य पर्यटन स्थलों के बारे में जानकारी लेते हैं.

1. नालंदा के इतिहासिक स्थल नालंद विश्वविद्यालय- Nalanda Ke Etihasik Sthal Nalanda University

Nalanda University
source-commons.wikimedia.org

यह विश्वविद्यालय बिहार के नालंदा जिले में स्थित है. नालंदा विश्वविद्यालय दुनिया का सबसे पुराना विश्वविद्यालय है. इसकी स्थापना 450 इस्वी में गुप्त बंश के शासक कुमार गुप्त ने की थी. यहाँ पर पढने के लिए ज्यादातर विदेशी क्षात्र आते थे. यहाँ पढने वाले क्षत्रो की संख्या लगभग 10,000 हुआ करते थे. इस 10,000 क्षात्र को पढ़ाने के लिए लगभग 2000 शिक्षक शामिल थे. इसीलिए नालंदा विश्वविद्यालय भारत के लोगो के ही नही बल्कि विदेशी लोगो को भी खूब पसंद आता है.

नालंद पटना से लगभग 95 km दूर और बोधगया से करीब 62 km दूर दक्षिण में 114 हेक्टेयर में फैले नालंद विश्वविद्यालय के अवशेष फैले हुए है. इस विश्वविद्यालय का अस्तित्ब 12 वी शताब्दी तक बना हुआ था. इतिहास का अध्यन करने पर पता चलता है की इस विश्वविद्यालय में करीब 780 साल तक पढाई हुइ थी. एसी मान्यता है की महात्मा बुद्ध ने कई बार इस विश्वविद्यालय का दौरा किया था और यही वजह है की 5-12 वी शताब्दी के बीच यहाँ बौद्ध शिक्षा भी शुरुयात की गयी थी.

2. पावापुरी- Pawapuri

Pawapuri
source-commons.wikimedia.org

पावापुरी एक जैनियों का तीर्थस्थल है. यह नालंदा से 25 km दूर पर स्थित है. जैन धर्म के सबसे बड़े प्रचारक और अंतिम तीर्थकर भगवान महावीर ने पावापुरी में अपना अंतिम उपदेश दिया था और उन्होंने अपनी अंतिम सांस यही ली और उनका अंतिम संस्कार भी पावापुरी में ही किया गया था. यहाँ पर दो मंदिर है समोशरण और जलमंदिर है.

3. बड़ी दरगाह बिहारशरीफ- Badi Dargah Biharsharif

नालंदा के पर्यटन स्थल | Tourist Places in Nalanda in Hindi

बिहारशरीफ नालंदा जिला का आधुनिक जिला मुख्यालय है. बिहारशरीफ नालंदा से 13 km दूर पर स्थति है. मध्यकालीन इस्लामिक वास्तुकला का अवशेष जैसे की मकबरा, मस्जिद, गुफ्कालिन अवशेष इस छोटे शहर में अपनी मौजूदगी महसुस कराते हैं. मुस्लिम संत मखदूम शाह शरीफ-उद-दीन का मकबरा यहाँ का सबसे प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है.

4. नालंदा के दर्शानिये स्थल राजगीर- Nalanda Ke Darshaniye Sthal Rajgir

Vishwa Shanti Stupa
source-commons.wikimedia.org

राजगीर नालंदा जिला का एक प्रमुख पर्यटन स्थल जो नालंदा से 34 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है. राजगीर में घुमने लायक जगहें:

  • वेणुवन
  • विश्व शांति स्तूप
  • वीरायतन
  • सोन भंडार
  • कुण्डलपुर
  • सारिपुत्र
  • घोर कटोरा
  • पांडु पोखर, इत्यादि.

नालंदा घुमने का सबसे अच्छा समय- Best Time to visit Nalanda in Hindi

नालंदा घुमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के महीनो में माना जाता है, तो आप नालंदा और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों पर आसानी से सैर कर सकते हैं.

नालंदा कैसे जाए- How to reach Nalanda

सड़क द्वारा (By Road)- यदि आप नालंदा की यात्रा सड़क मार्ग द्वारा करते हैं तो हम बता दे बिहार के कई राज्य सड़क के माध्यम से अच्छी तरह जुडी हुई है पटना से 62 km और बोधगया से 101 km दूर पर स्थित है, और दोनों जगहों से बस की सेवा उपलब्ध है.

ट्रेन द्वारा (By Train)- यदि आप नालंदा की यात्रा ट्रेन से करते है तो हम बता दें की  नालंदा का अपना रेलवे स्टेशन है जो की अपने आसपास के शहरो से जुडी हुई है और दिल्ली, पटना जैसे प्रमुख शहरो से ट्रेन उपलब्ध है.

हवाई जहाज द्वारा (By Flight)- यदि आप नालंदा की यात्रा हवाई जहाज से करते है तो हम बता दें की नालंदा की अपनी कोई हवाई अड्डा नही है इसीलिए इसके निकटम हवाई अड्डा है जय प्रकाश नारायण हवाई अड्डा जो पटना में है, और वहा से बस, टैक्सी द्वारा आसानी से राजगीर आ सकते है जो की हवाई अड्डा से नालंदा की दुरी 80 km है.

नालंदा का नक्शा- Nalanda Map

Abhishek
Abhishek

अभिषेक कुमार HindiYatra के संस्थापक और लेखक है. उन्हें नई जगहों का पता लगाने और उनके बारे में लिखने का शौख है.
इनका गृह नगर बिहारशरीफ है. वह एक अशंकालिक ब्लॉगर है और डिजिटल मर्केटर के रूप में काम करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *